अग्निपथ योजना के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन, इतनी ट्रेनें हुई कैंसिलस और इतनी रद्द

Image Source : PTI
Nationwide protest against the Centre’s Agneepath scheme 

Highlights

  • अग्निपथ योजना का देशभर में हो रहा विरोध
  • प्रदर्शनों के चलते 34 से अधिक ट्रेनें हुईं रद्द
  • गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने कई जगह फूंकी ट्रेनें

Agnipath Protest: सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना की घोषणा और रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) की परीक्षाओं में देरी के विरोध में प्रदर्शनों के चलते गुरुवार को 34 से अधिक ट्रेन रद्द कर दी गईं और आठ अन्य को आंशिक रूप से रद्द किया गया। रेलवे ने एक बयान में बताया कि प्रदर्शनों के चलते 72 अन्य ट्रेन देरी से चल रही हैं। रेलवे ने कहा कि पांच मेल और एक्सप्रेस ट्रेन और 29 यात्री ट्रेनें रद्द कर दी गईं। अग्निपथ योजना के खिलाफ देशभर में कई जगहों से विरोध प्रदर्शन की खबरें आ रही हैं। 

पूर्व मध्य रेलवे जोन में 22 ट्रेन रद्द

दिल्ली के नांगलोई में, प्रदर्शनकारियों ने रेलवे ट्रैक को अवरुद्ध कर दिया और हाल ही में घोषित योजना के खिलाफ नारेबाजी की। दिल्ली पुलिस ने कहा कि उसे सुबह लगभग 9.45 बजे सूचना मिली कि 15-20 लोग नांगलोई रेलवे स्टेशन पर अग्निपथ योजना और आरआरबी परीक्षा में देरी के विरोध में एकत्र हुए हैं। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने दो-तीन साल पहले कुछ सरकारी परीक्षाओं के लिए फॉर्म भरे थे लेकिन परीक्षा नहीं हुई और अब उनकी उम्र अधिक हो गई है। दोपहर बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को शांत कराया और तितर-बितर कर दिया। अकेले पूर्व मध्य रेलवे जोन में कुल 22 ट्रेन रद्द की गईं। 

उत्तर प्रदेश में इतनी ट्रेनें प्रभावित 

केंद्र की ‘अग्निपथ’ योजना के विरोध में बृहस्पतिवार को उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में युवाओं ने प्रदर्शन किया। इसकी वजह से वाराणसी रेल मण्डल के विभिन्न खण्डों की करीब 21 रेलगाड़ियों का संचालन प्रभावित हुआ। अलीगढ़ और मथुरा में नौजवानों ने योजना के खिलाफ रास्ता जाम किया, बलिया में युवाओं के प्रदर्शन के कारण स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस को रोकना पड़ा। वहीं, फिरोजाबाद और बुलंदशहर में नौजवानों ने सड़क पर उतरकर नारेबाजी की। 

पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक ‘अग्निपथ योजना’ के खिलाफ धरना-प्रदर्शन के कारण वाराणसी मण्डल के गोरखपुर-छपरा, छपरा-बलिया, सीवान-थावे, छपरा-मसरख-थावे, वाराणसी-गाजीपुर और वाराणसी-प्रयागराज रेल खण्डों पर 21 रेलगाड़ियों का संचालन ठप हो गया, जो समाचार लिखे जाने तक शुरू नहीं हो सका है।

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.