क्या आप भी हैं मोमोज खाने के शौकीन? तो पढ़ लें अधिक खाने से क्या हो सकते हैं नुकसान

Momos Side Effects: मोमोज खाने के शौकीनों की कोई कमी नहीं है. क्या बच्चे, क्या बड़े, हर कोई मोमोज देखते ही खुद को रोक नहीं पाता है. आज हर रेस्तरां, मार्केट, मॉल, फूड स्ट्रीट, रोड साइड आपको मोमोज बेचने वाला मिल जाएगा. हालांकि, इसे खाते समय थोड़ी सावधानी भी बरतनी चाहिए. कई वेरायटी और स्वाद में मिलने वाला मोमोज सेहत के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि यदि आप मोमोज को बिना अच्छी तरह से चबाए एक बार में ही खा जाते हैं, तो यह आपके गले में भी फंस सकता है.

जी हां, मोमोज को बिना चबाए निगलना आपके लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है. फूड डॉट एनडीटीवी डॉट कॉम में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली स्थित एम्स ने हाल ही में मोमोज खाने से संबंधित एक चेतावनी जारी की है. दरअसल, एक 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत मोमोज खाने के दौरान दम घुटने से हो गई.

इसे भी पढ़ें: ‘निगलने से पहले चबाएं’ : मोमोज की वजह से व्यक्ति की मौत, एम्स ने जारी की चेतावनी

मोमोज खाएं खूब चबाकर

डॉक्टर्स ने जब व्यक्ति की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देखी, तो पता चला कि मोमो उसके विंडपाइप की ओपनिंग में फंस गया था. ऐसे में आप जब भी मोमोज खाएं, तो उसे अच्छी तरह से चबाकर ही निगलें. दरअसल, मोमोज मैदे से बना होता है. इसका टेक्सचर स्लिपरी भी होता है, जिससे इस तरह की समस्याएं हो सकती हैं. इतना ही नहीं, अधिक मात्रा में मोमोज खाने से भी बचना चाहिए, क्योंकि इसके सेहत पर कुछ अन्य नुकसान भी हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: क्या है मोमोज की कहानी, कैसे और कहां से हुई इसकी शुरुआत?

मोमोज खाने के नुकसान

टीओआई में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, मोमोज के अंदर स्टफ की जाने वाली सब्जियां कई बार खराब गुणवत्ता वाली और अस्वच्छ होती हैं. इनमें ई-कोलाई जैसे बैक्टीरिया भी हो सकते हैं, जो गंभीर संक्रमण का कारण बनते हैं.
-बेशक, लाल मिर्च सेहत के लिए अच्छी मानी जाती है, अगर वे प्रॉसेस्ड मिर्च पाउडर ना हो. लेकिन, मोमोज के साथ दी जाने वाली तीखी लाल मिर्च से बनी चटनी गुणवत्ता के ममाले में अनहेल्दी होती है. इसके अलावा, मोमोज की चटनी अधिक खाने से बवासीर या खूनी बवासीर, पेट में जलन, गैस, पाचन संबंधित समस्या आदि होने की संभावना भी बढ़ सकती है.
-मोमोज में मोनो-सोडियम ग्लूटामेट भी होता है, जो मोटापे का कारण बन सकता है. साथ ही इसके अधिक सेवन से तंत्रिका संबंधी डिसऑर्डर, अधिक पसीना आना, सीने में दर्द, मतली और धड़कन बढ़ने जैसी अन्य स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं.
-अधिक मोमोज खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो सकती है.
-चूंकि यह मैदे से बनता है, जिससे आपको कब्ज की शिकायत हो सकती है.
-मैदे में ग्लाइसेमिक इंडेक्स की मात्रा अधिक होने के कारण शुगर लेवल बढ़ सकता है.
-मैदे में स्टार्च होता है, जो वजन बढ़ाने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल लेवल भी हाई कर सकता है.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.