झारखंड में गर्लफ्रेंड के लिए चोर बन गया प्रेमी

Image Source : KHUNTI POLICE TWITTER
Khunti Police

Highlights

  • चोरी की गई बाइकों को जंगल में छिपा देते थे
  • पुलिस ने चोरों से 27 बाइकें बरामद की हैं
  • लोकल इलाके में बाइकों को नहीं बेंचते थे चोर

Jharkhand: शाहजहां ने अपनी पत्नी के प्यार में उसकी मौत के बाद भी ताजमहल बनवाया। मजनू ने अपनी लैला के लिए जिंदगी कुर्बान कर दी। लेकिन झारखंड में एक आशिक अपनी मोहब्बत के लिए बाइक चोर बन गया। झारखंड के खूंटी में गर्लफ्रेंड की वजह से  युवक बाइक चोर बन गया। दरअसल युवक को अपनी गर्लफ्रेंड के साथ लिव-इन में रहने के लिए पैसे कम पड़ रहे थे। ऐसे में उसने अपने साथियों के साथ मिल कर बाइक चुराना शुरू कर दिया। पुलिस ने आरोपी युवक को उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार किया है। उसके ठिकाने से पुलिस ने चोरी की 27 बाइक भी बरामद की।

चोरी करके बाइक जंगल में छिपा देता था 

युवक ने शुरुआत में एक-दो बाइकें चुराई। लेकिन फिर उसे इस तरीके से अपनी गर्लफ्रेंड का खर्च उठाना सही लगा। ऐसे में उसने अपने साथियों के साथ मिलकर शहर भर में बाइक चोरी करना शुरू कर दिया। चोरी करने के बाद वे बाइकों को शहर से बाहर जंगल में छिपा देते थे। फिर वे उसका नंबर प्लेट बदलकर राज्य के बाहर भेज देते थे।

पुलिस ने स्पेशल टीम बनाई, तब पकड़ में आये 

पिछले कुछ समय से शहर में धड़ाधध बाइकों की चोरी होने लगी। आम नागरिकों के साथ-साथ पुलिस भी परेशान हो गई। पुलिस को लगातार शिकायतें मिल रही थीं, लेकिन वह कुछ नहीं कर पा रही थी। जिसके बाद खूंटी एसपी अमन कुमार ने एक स्पेशल टीम बनाई। टीम ने जांच शुरू की। इस टीम को सूचना मिली कि कुछ चोर चोरी की बाइक को जंगल में छिपाने ले जा रहे हैं। जिसके बाद पुलिस ने पीछा करके उन चोरों को पकड़ा। पूछताछ करने पर चोरों ने सब कुछ उगल दिया। पुलिस उन्हें जंगल भी ले गई। जहां से पुलिस ने 27 बाइक और स्कूटी बरामद कीं। 

Recovered bikes

Image Source : KHUNTI POLICE TWITTER

Recovered bikes

राज्य के बाहर बेंचते थे बाइक

पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत कुल तीन चोरों को गिरफ्तार किया है। जिसमें से एक चोर नाबालिग है। वे चोरी की बाइक को राज्य के बाहर बेंचा करते थे। क्योंकि लोकल इलाके में चोरी की बाइक की ज्यादा कीमत नहीं मिलती थी और उनका राज खुलने का भी डर बना रहता था।

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.