Bitcoin Crash: बिटकॉइन की कीमत गिरकर 21 हजार डॉलर के नीचे पहुंची, जानिए, कहां तक टूटेगा? Bitcoin price fell below 21 thousand dollars know the future price

Bitcoin Crash: बिटकॉइन की कीमत गिरकर 21 हजार डॉलर के नीचे पहुंची, जानिए, कहां तक टूटेगा? Bitcoin price fell below 21 thousand dollars know the future price
Bitcoin- India TV Paisa
Photo:FILE

Bitcoin

Highlights

  • नवंबर 2021 में 68,000 डॉलर पर पहुंच गया था बिटकॉइन
  • 12 हफ्ते से लगातार गिर रही है बिटकॉइन की कीमत
  • बिटकॉइन में अगले 6 महीनों में और बड़ी गिरावट की आशंका

Bitcoin Crash: शीर्ष क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन (बीटीसी) मंगलवार को लगभग 21,000 डॉलर प्रति सिक्का तक गिर गया। लगभग पांच साल पहले बिटकॉइन इस स्तर पर थी। वैश्विक क्रिप्टो बाजार कमजोर मैक्रोइकॉनॉमिक वातावरण और क्रिप्टो स्पेस के भीतर से प्रणालीगत जोखिम के कारण क्रैश होने के कारण यह लगभग 20,000 रुपये से 21,000 रुपये प्रति बीटीसी पर मडरा रहा है।

कहां तक गिर सकता है बिटकॉइन भाव 

विश्लेषकों के मुताबिक, इस साल बिटकॉइन की कीमत गिर कर 14,000 डॉलर तक पहुंच सकती है। 14,000 डॉलर की संभावित निचली सीमा बिटकॉइन के लिए 68,000 डॉलर के ऐतिहासिक उच्च स्तर से लगभग 80 प्रतिशत की गिरावट का प्रतिनिधित्व करेगी। ऑन-चेन एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म क्रिप्टोक्वांट में योगदानकर्ता वेंचरफाउंडर ने ट्वीट किया, अगले 670 दिनों में, बीटीसी अगले 6 महीनों में हथियार डाल देगा और चक्र के नीचे (14 हजार से 21 हजार डॉलर) तक पहुंच जाएगा, फिर 2023 तक लगभग 40 हजार डॉलर पर फिर से पहुंच जाएगा।

भाव 49,000 से गिरकर 21 हजार डॉलर पर 

बिटकॉइन लगभग 12 सीधे हफ्ते लगातार गिरा। मार्च में लगभग 49,000 डॉलर मूल्य से गिरकर लगभग 21,000 डॉलर पर पहुंच गया है। क्रिप्टो लेंडिंग प्लेटफॉर्म सेल्सियस ने घोषणा की है कि बिटकॉइन ने ‘अत्यधिक बाजार स्थितियों’ का हवाला देते हुए सभी निकासी को रोक दिया था। फर्म ने ग्राहकों को एक ज्ञापन में लिखा, ‘बाजार की चरम स्थितियों के कारण, आज हम घोषणा कर रहे हैं कि सेल्सियस सभी व्रिडॉवल्स, स्वैप और खातों के बीच ट्रांसफर्स को रोक रहा है।

68,000 डॉलर के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा था नवंबर 2021 में 

बिटकॉइन (बीटीसी) नवंबर 2021 में 68,000 डॉलर से अधिक के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया था और तब से 60 प्रतिशत से अधिक गिर गया है। एथेरियम की कीमतें भी प्रभावित हुईं, जिससे दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी डिजिटल संपत्ति 2018 के शिखर से नीचे वापस आ गई।

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.