News Details

  • Home -
  • News Details

Team India: इस भारतीय बल्लेबाज को रोक पाना हुआ नामुमकिन, शतक जड़कर सेलेक्टर्स को दिया मुंहतोड़ जवाब
research

Ranji Trophy की 23 पारियों में उनका ये 10वां शतक है.  इस बल्लेबाज का 53 पारियों में 82.6 का शानदार औसत है. बता दें कि इस बल्लेबाज को न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह नहीं मिली है.

Ranji Trophy Match: मुंबई के बल्लेबाज सरफराज खान ने एक और शतक जड़कर सेलेक्टर्स को जवाब दिया है. मुंबई के इस धाकड़ बल्लेबाज ने मंगलवार को रणजी ट्रॉफी में दिल्ली के खिलाफ मुकाबले में सेंचुरी बनाई. रणजी ट्रॉफी की 23 पारियों में उनका ये 10वां शतक है. बता दें कि सरफराज को न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह नहीं मिली है. मुंबई की टीम एक समय पर 66 रन पर 4 विकेट खोकर संघर्ष कर रही थी. स्टार खिलाड़ियों से सजी इस टीम को संकट से निकालने का काम सरफराज खान ने किया. खबर लिखे जाने तक पर नाबाद 117 रनों पर खेल रहे हैं.

135 गेंदों में पूरा किया शतक
मुकाबले में दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. मुंबई के स्टार ओपनर पृथ्वी शॉ 35 गेंद में 40 रन बनाकर आउट हुए. टीम इंडिया के कप्तान रह चुके अजिंक्य रहाणे 25 गेंदों में 2 रन ही बना सके.सरफराज खान ने अपना शतक 135 गेंदों में पूरा किया.

5वें नंबर पर बैटिंग करने उतरे मुंबई के इस युवा बल्लेबाज ने पहली 20 गेंदों पर सिर्फ एक ही रन बनाए थे, लेकिन उसके बाद उन्होंने तेजी से रन बनाना शुरू किया. 37वां फर्स्ट क्लास मैच खेल रहे सरफराज खान का यह 13वां शतक है. 53 पारियों के बाद उनका बल्लेबाज औसत 82 से ऊपर का है. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 50 से ज्यादा पारियां खेलने वाले खिलाड़ियों में सिर्फ डॉन ब्रैडमैन का औसत सरफराज से बेहतर है

2021-22 रणजी ट्रॉफी में सफराज ने 122.75 की औसत से चार शतक और दो अर्धशतक के साथ 982 रन बनाए. उनका सर्वोच्च स्कोर 275 रहा. हाल ही में एक इंटरव्यू में सरफराज ने खुलासा किया कि वह 2021-22 के रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच के दौरान चयनकर्ताओं से मिले थे, जहां उन्होंने उन्हें बांग्लादेश के लिए टीम इंडिया के कॉल-अप के लिए तैयार रहने के लिए कहा था. 

सरफराज ने कहा, बैंगलोर में रणजी ट्रॉफी फाइनल के दौरान, जब मैंने शतक बनाया तो मैं चयनकर्ताओं से मिला. मुझे बताया गया था कि आपको बांग्लादेश में मौका मिलेगा. उसके लिए तैयार रहो. हाल ही में, मैं चेतन शर्मा सर (मुख्य चयनकर्ता) से मिला, जब हम मुंबई के होटल में चेकिंग कर रहे थे. उन्होंने मुझे निराश न होने के लिए कहा और कहा कि मेरा समय आएगा. अच्छी चीजें होने में समय लगता है. आप बहुत करीब हैं (इंडिया बर्थ के लिए). आपको अपना मौका मिलेगा. इसलिए, जब मैंने एक और महत्वपूर्ण पारी खेली तो मुझे उम्मीदें थीं, लेकिन यह ठीक है.