IND vs SA: वसीम जाफर ने ऋषभ पंत की कप्तानी की बड़ी कमजोरी पकड़ी, बोले- IPL वाली गलती दोहरा रहे

IND vs SA: वसीम जाफर ने ऋषभ पंत की कप्तानी की बड़ी कमजोरी पकड़ी, बोले- IPL वाली गलती दोहरा रहे

नई दिल्ली. ऋषभ पंत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में केएल राहुल के चोटिल होने के कारण टीम इंडिया की कप्तानी करने का मौका मिला. लेकिन, उनका आगाज अच्छा नहीं रहा. पंत की अगुवाई में भारत मेहमान टीम से पहले दोनों टी20 हार गया. इन मुकाबलों में पंत का बल्ला तो नहीं ही चला. साथ ही उनकी कप्तानी भी बिखरी नजर आई. उनके कई फैसलों पर सवाल भी खड़े हुए. वो दोनों ही मौकों पर लक्ष्य का बचाव करने में नाकाम रहे. इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान पंत को लेकर सवाल खड़े हुए कि क्या उन्हें जल्दी यह जिम्मेदारी सौंप दी गई? अब पूर्व भारतीय ओपनर और क्रिकेट एक्सपर्ट वसीम जाफर ने भी पंत की कप्तानी की एक बड़ी कमजोरी बताई है. जाफर का मानना है कि जब मुकाबला फंस जाता है, तो पंत घबरा जाते हैं और उन्हें फैसले लेने में परेशानी होती है.

ऋषभ पंत ने दिल्ली में हुए पहले टी20 में 16 गेंद में 29 रन की पारी खेलकर सबको प्रभावित किया था. इस मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 212 रन का टारगेट दिया था. लेकिन, टीम इंडिया इस लक्ष्य का बचाव नहीं कर पाई. इस मैच में पंत ने कुछ ऐसे फैसले भी लिए, जिस पर बाद में सवाल खड़े हुए. पंत ने इस मैच में टी20 में भारत के लिए सबसे अधिक विकेट लेने वाले लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल से सिर्फ 2 ओवर ही गेंदबाजी कराई और चहल के तीसरा ओवर की पहली गेंद पर मैच ही खत्म हो गया.

पूर्व दिग्गजों ने भी पंत के इस फैसले पर हैरानी जताई थी. जबकि चहल ने आईपीएल 2022 में सबसे अधिक विकेट लिए थे.

पंत दोनों टी20 में लक्ष्य का बचाव नहीं कर पाए
पंत ने पहले टी20 में 212 रन का टारगेट नहीं बचा पाने के बावजूद दूसरे टी20 के प्लेइंग-XI में कोई बदलाव नहीं किया. खासतौर पर तेज गेंदबाजी में. इसे लेकर भी उन पर सवाल खड़े हुए. इस मैच में पंत ने अक्षर पटेल को दिनेश कार्तिक से पहले बल्लेबाजी के लिए भेजा था. उनका यह फैसला भी किसी के समझ नहीं आया. इस मैच में 149 रन का बचाव करते हुए भुवनेश्वर कुमार ने पावरप्ले में तीन विकेट लेकर भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई थी. लेकिन, इसके बाद पंत मिडिल और डेथ ओवर में गेंदबाजों का सही से इस्तेमाल नहीं कर पाए.

पंत बहुत जल्दी अपनी रणनीति बदल लेते हैं: जाफर
जाफर को लगता है कि पंत जल्दी घबरा जाते हैं और जब चीज उनके मुताबिक नहीं होती है तो वो फौरन अपनी रणनीति बदल लेते हैं. उन्होंने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर कहा, “हमने आईपीएल 2022 में भी पंत की यही कमजोरी देखी थी. वो जल्दी-जल्दी रणनीति में बदलाव करते हैं. मुझे लगता है कि वो जितनी अधिक कप्तानी करेंगे, उतने बेहतर होते जाएंगे. लेकिन, अभी तो उनकी यह कमजोरी है. मुझे लगता है कि जब भी मैच फंसता है तो पंत थोड़ा घबरा जाते हैं.”

IND vs SA: रोहित शर्मा के बिन टीम इंडिया के लिए जीतना नामुमकिन! क्या ऋषभ पंत बदल पाएंगे किस्मत?

Ind vs SA 3rd T20 Probable Playing XI: तीसरे टी20 मैच में ऐसी हो सकती है टीम इंडिया की प्लेइंग XI, दो बदलाव संभव

पंत को आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी करते हुए वक्त हो गया है. लेकिन, आईपीएल में कप्तानी करना और इंटरनेशनल स्तर पर यह जिम्मेदारी संभालने में बड़ा फर्क होता है. पंत की कप्तानी में 2021 में दिल्ली कैपिटल्स ग्रुप स्टेज में शीर्ष पर रही थी. लेकिन, फिर प्लेऑफ में हारकर बाहर हो गई ती. आईपीएल 2022 में तो दिल्ली कैपिटल्स नॉक आउट स्टेज तक भी नहीं पहुंच पाई. हालांकि, वो युवा हैं और उनके पास इस सीरीज में अपनी लीडरशिप स्किल दिखाने के लिए तीन और मैच हैं.

Tags: Delhi Capitals, India vs South Africa, IPL 2022, Rishabh Pant, Wasim Jaffer

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.