International Yoga Day 2022: योग करने से सेहत पर होते हैं गजब के लाभ, एक्सपर्ट ने बताए इसके 5 बड़े फायदे

Benefits of Yoga: पूरे विश्व में आज (21 जून) ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022’ सेलिब्रेट किए जाने की शुरुआत हो चुकी है. योग को साधारणतया आंशिक रूप से ही समझा जाता रहा है. हम योग को आसनों या मुद्राओं तक ही सीमित मानकर केवल भौतिक स्तर पर ही इसके द्वारा मिले लाभों को प्राप्त करते हैं. ऐसा होने पर हम योग द्वारा शरीर, मन और श्वास को संयुक्त करने से मिलने वाले अपार लाभ अनुभव करने में विफल रहते हैं. जब आप सामंजस्य में होते हैं, तो जीवन यात्रा शांत, सुखमय और अधिक संतोषजनक होती है, इसलिए यदि आप अपना भार कम करना चाहते हैं, एक सुदृढ़ और लचीला शरीर विकसित करना चाहते हैं या शांति से रहना चाहते हैं, तो योग आपको यह सब प्राप्त कराने में सहायक हो सकता है. आर्ट ऑफ लिविंग के श्री श्री स्कूल ऑफ योग की वरिष्ठ योग प्रशिक्षक, कमलेश बरवाल ने बताए नियमित रूप से योग करने पर सेहत को क्या-क्या फायदे हो सकते हैं.

योग करने के सेहत लाभ

-स्वास्थ्य में सुधार लाता है.
-मानसिक शक्ति प्रदान करता है.
-शारीरिक शक्ति में सुधार करता है.
-चोट से रक्षा करता है.
-शरीर को विषैले पदार्थों से मुक्त करता है.

इसे भी पढ़ें: International Yoga Day 2022: दिल को रखना है निरोग, तो करें बितिलासन, ये 3 योगासन भी हृदय रोग से रखेंगे दूर

तनाव से राहत पाने के लिए योग सबसे अच्छे समाधानों में से एक है
प्रतिदिन कुछ मिनट का योग अभ्यास शरीर और मस्तिष्क दोनों के लिए तनाव से छुटकारा पाने का एक उत्तम उपाय हो सकता है. तनाव मुक्त होने के लिए योग मुद्राएं, प्राणायाम और ध्यान प्रभावशाली विधियां हैं.

योग आंतरिक शांति प्राप्त करने में करता है मदद
हम सभी प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर शांतिपूर्ण, एकांत स्थानों की यात्रा करना पसंद करते हैं. हमें इस बात का एहसास बहुत कम है कि शांति हमारे भीतर ही पाई जा सकती है और हम दिन के किसी भी समय इसका अनुभव करने के लिए एक लघु अवकाश ले सकते हैं. योग भी अशांत मन को शांत करने के सर्वोत्तम उपायों में से एक है.

योग रोग प्रतिरोधक क्षमता में करता है सुधार
हमारा तन्त्र शरीर, मन और आत्मा का एक सहज संयोजन है. शरीर में आई अनियमितता मन को प्रभावित करती है और इसी प्रकार मन की हलचल या बेचैनी शरीर में रोग के रूप में प्रकट हो सकती है. योग मुद्राएं आंतरिक अंगों की मालिश करने और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करती है, जबकि श्वास लेने की विधि और ध्यान तनाव से मुक्त करते हैं और रोग प्रतिरक्षा में सुधार करते हैं.

इसे भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022: मानसिक सेहत रहेगी दुरुस्त, जब नियमित करेंगे एक्सपर्ट के बताए ये 4 योगासन

योग का अभ्यास अधिक जागरूकता प्रदान करता है
मन निरन्तर किसी न किसी गतिविधि में लगा रहता है. अतीत से भविष्य की ओर डोलता रहता है, लेकिन वर्तमान में कभी नहीं रहता. मन की प्रवृत्ति के प्रति जागरूक रहकर ही हम अपने आप को तनावग्रस्त होने या थके रहने से बचा सकते हैं. योग और प्राणायाम उस जागरूकता को पैदा करने में सहायता करते हैं और मन को वर्तमान क्षण में वापस लाते हैं, जहां वह प्रसन्न और केंद्रित रह सकता है.

योग ऊर्जा को बढ़ाता है
क्या आप दिन के अंत तक पूरी तरह से थका हुआ महसूस करते हैं? लगातार कार्य करते रहना और एक साथ कई कामों को निपटाना काफी थका देने वाला हो सकता है. रोजाना कुछ मिनट योग करने से हमारी ऊर्जा का स्तर बढ़ता है और हम तरोताजा रहते हैं.

योग लचीलापन और आकर्षक मुद्रा प्रदान करता है
एक सबल, कोमल और लचीला शरीर पाने के लिए योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए. नियमित योगाभ्यास से शरीर की मांसपेशियां खिंचती और सिकुड़ती हैं और वे मजबूत भी होती हैं. जब आप खड़े होते, बैठते, सोते या चलते हैं, तो यह आपके शरीर की मुद्रा में सुधार करने में भी मदद करता है. परिणामस्वरूप गलत मुद्रा के कारण शरीर में हुए दर्द से छुटकारा पाने में आपकी मदद करेगा.

चूंकि योग एक सतत प्रक्रिया है, इसलिए इसका निरन्तर अभ्यास करते रहने की सलाह दी जाती है. योग का अभ्यास शरीर और मन को विकसित करने में मदद करता है, फिर भी यह दवा का विकल्प नहीं है. किसी भी चिकित्सीय स्थिति के मामले में एक प्रशिक्षित योग शिक्षक की देखरेख में योग सीखना और अभ्यास करना आवश्यक है.

Tags: Benefits of yoga, Health, International Day of Yoga, International Yoga Day, Lifestyle

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.