Maharashtra Political Crisis: ‘उद्धव ठाकरे का समय अब पूरा हो गया है’, जानें नई सरकार को लेकर अठावले ने क्या कहा

Image Source : PTI/FILE
Ramdas Athawale 

Highlights

  • आनेवाले समय में बीजेपी-शिंदे की सरकार बनेगी-अठावले
  • उद्धव ठाकरे का समय अब पूरा हो चुका है-अठावले

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम के बीच रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के नेता रामदास अठावले (Ramdas Athawale) का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि उनका (उद्धव ठाकरे का) समय चला गया है। उनके पास अंत तक केवल 4 से 5 विधायक ही बच सकते हैं बाकी सारे विधायक एकनाथ शिंदे के साथ जाएंगे। अठावले ने महाराष्ट्र की सियासत के भविष्य को लेकर भी अपनी बात रखी।

बीजेपी और एकनाथ शिंदे की सरकार आएगी-अठावले

रामदास अठावले ने मौजूदा सियासी हालात को देखते हुए कहा कि आनेवाले समय में प्रदेश में बीजेपी और एकनाथ शिंदे की सरकार आएगी। उधर, देर रात शिंदे को बागी विधायकों के गुट ने विधायक दल का नेता चुन लिया है। एकनाथ शिंदे ने विधानसभा स्पीकर नरहरि जिरवाल को अपने 37 विधायकों की लिस्ट सौंपी है। शिंदे ने विधायकों और एक दर्जन निर्दलीय और छोटे दलों के समर्थन का दावा किया।

शिवसेना ने विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की

शिवसेना ने डिप्टी स्पीकर को पत्र लिखकर विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की थी। पार्टी और विधायकों के बीच दरारें तब और गहरी हो गई, जब शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे को चीफ व्हिप पद से पार्टी ने हटा दिया और उनकी जगह पर अजय चौधरी को नया चीफ व्हिप बनाया गया। हालांकि ताजा जानकारी के मुताबिक विधानसभा उपाध्यक्ष ने विधायक दल के नेता के तौर पर अजय चौधरी की नियुक्ति को मान लिया। 

मुंबई लौटने के बाद संख्या बदल जाएगी-राउत

उधर, शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि अब 12 विधायकों को अयोग्य ठहराने की डिप्टी स्पीकर जिरवाल की याचिका के साथ कानूनी लड़ाई शुरू हो गई है, क्योंकि लोकतंत्र बहुमत के आंकड़ों पर चलता है जो कभी भी बदल सकता है। राउत ने आगाह किया, ‘अब तक, बागियों द्वारा किया जा रहा दावा सिर्फ कागजों पर है। वे अभी तक मुंबई नहीं आए हैं और उनके लौटने के बाद संख्या बदल जाएगी। जो चले गए हैं उन्हें पछताना होगा।’

हम धमकियों से नहीं डरते-शिंदे

शिवसेना के 40 से ज्यादा विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए एकनाथ शिंदे ने ‘अयोग्य’ की मांग को लेकर कहा, ‘हम इस तरह की धमकियों से डरते नहीं हैं, हम जो कुछ भी कर रहे हैं वह कानूनी तौर पर बिल्कुल सही है। हमारे पास सभी विधायकों के हलफनामे हैं कि वे अपनी इच्छा से हमारे साथ शामिल हुए हैं। बहुमत संख्या हमारे पास है। 40 से अधिक शिवसेना विधायक और 12 निर्दलीय और अन्य का हमें सर्मथन प्राप्त है।’

इनपुट-आईएएनएस

Atul Tiwari

Atul Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published.